बच्चे की मौत पर GMSH सेक्टर 16 में आज जमकर हंगामा हुआ

0
483

बच्चे की मौत पर GMSH सेक्टर 16 में आज जमकर हंगामा हुआ। परिजनों ने बच्चे की मौत को लेकर डाक्टर पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। उनका कहना था कि डाक्टरों के गलत इंजेक्शन लगाने से बच्चे की मौत हुई है। जिस पर गुस्साए परिजनों ने असपताल परिसर में तोडफोड भी की। बुधवार सुबह GMSH 16 में जमकर हंगामा हुआ। यह हंगामा एक तीन माह के बच्चे की मौत पर हुआ। बच्चे की मौत पर परिजनों ने आरोप लगाए कि डाक्टरों के गलत इंजेक्शन लगाने से उनके बच्चे की मौत हुई है। जिसको लेकर परिजनों ने असपताल परिसर में तोडफोड भी की। गुस्साए परिजनों ने इमरजेंसी का मेन गेट भी तोड दिया। जिसके बाद असपताल की सिक्योरिटी और परिजनों में जमकर हाथापाई भी हुई। उसके बाद काफी संख्या में पुलिस बल पहुंचा जिसने लोगों को बाहर खदेडा। बच्चे के पिता रामकुमार ने कहा कि वह कांसल गांव में रहते हैं। बच्चे का पेट खराब रहता था। इसलिए दस दिन पहले उन्होने अपने तीन माह के बच्चे को असपताल में भर्ती करवाया था। उसका इलाज ठीक ठाक चल रहा था। बुधवार सुबह डाक्टरों ने कहा कि उसे इंजैक्शन लगाना पडेगा। उन्होने डाक्टर को इंजैक्शन लगाने को मना किया था। उनका कहना था। एक बार पहले भी इंजैक्शऩ लगाने से उसकी तबीयत खराब हुई थी। लेकिन बच्चे को फिर भी इंजैक्शन लगा दिया गया जिसके कारण उसकी मौत हुई है। और इसके लिए डाक्टर जिम्मेदार है।

बाइट – बच्चे के पिता रामकुमार

वहीं पीडियाट्रिक एसएमओ डाक्टर परमजीत सिंह का कहना था। कि बच्चे की तबीयत पहले से ही खराब थी। उसकी किडनी में इंफैक्शन फैल गया था। जिसके कारण उसे एक दिन पहले वैंटीलेटर पर ऱखा गया था। इसी कारण उन्हें इंजैक्शन लगाना पडा था। इसमें उनकी तरफ से कोई लापरवाही नहीं की गई है।

बाइट – परमजीत सिंह, एसएमओ

खबर लिखे जाने तक परिजनों को विरोध जारी था। परिजनों ने बच्चे का शव लेने से इंकार कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here