पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आज खुद को किसानो का मसीहा बताते हुए गन्ने की बकाया रकम को लेकर मुख्यमंत्री आवास के समक्ष धरना दिया

0
746

पंजाब में गुटबाजी का शिकार कांग्रेस प्रदेश सरकार को अलग-अलग मुद्दो पर घेरने के लिए अलग- अलग राग अलाप रही है। जहाँ पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा ने किसानों की गन्ने की बकाया रकम को लेकर 21 अगस्त से फगवाड़ा की शुगर मिल से धरने प्रदर्शनों का एलान किया था वहीँ अमृतसर से सांसद व पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आज खुद को किसानो का मसीहा बताते हुए गन्ने की बकाया रकम को लेकर मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के चंडीगढ़ स्थित आवास के समक्ष धरना देने जा पहुंचे। हालाँकि जैसे ही मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को इसकी खबर लगी वे खुद सुबह करीब साढ़े दस बजे ही अपने आवास के समक्ष कैप्टन के सवागत के लिए बैठ गए। लेकिन जब11 :30 बजे कैप्टन अमरिंदर सिंह अपने समर्थकों सहित मुख्यमंत्री के आवास के बाहर पहुंचे तो कैप्टन समर्थकों ने पहले से तय कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री से बिना बातचीत किये सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर जिसे देखते हुए मुख्यमंत्री भी अपने जरुरी कामों के लिए निकल गए। इससे पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह का अपने घर के समक्ष इन्तजार कर रहे मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने मीडिया कर्मियों से बात करते हुए कहा कि वे कैप्टन अमरिंदर सिंह सहित विपक्ष के हर नेता से किसी भी मुद्दे पर बातचीत के लिए के लिए तैयार है। इसलिए वे कैप्टन अमरिंदर सिंह का भी किसानों के मुद्दे पर चाय पर चर्चा करने के लिए इन्तजार कर रहे है। उन्होंने बताया कि सरकारी शुगर मिलों पर किसानों का 540 करोड़ बकाया था जिसमे से 450 करोड़ की रकम किसानों को दे दी गयी है जबकि 90 करोड़ की बकाया रकम भी सितम्बर तक किसानों को दे दी जाएगी।

बाइट- प्रकाश सिंह बादल , मुख्यमंत्री पंजाब।

वहीँ कैप्टन अमरिंदर सिंह के आने से पहले उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल भी उनकी लेट लतीफी पर कटाक्ष करते नजर आये। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस लीडरशिप हमेशा लेट ही उठती है जबकि मुख्यमंत्री उनका कब से इन्तजार कर रहे है।
बाइट- सुखबीर सिंह बादल , उपमुख्यमंत्री पंजाब।

वहीँ करीब 20 मिनट मुख्यमंत्री आवास के समक्ष धरना प्रदर्शन करने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब के नेता विपक्ष सुनील जाखड़ के घर का रुख किया जहाँ कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किसानों की गन्ने की बकाया रकम को लेकर प्रदेश सरकार को जमकर कोसा।
बाइट- कैप्टन अमरिंदर सिंह, कांग्रेसी सांसद अमृतसर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here