अंतर्राष्ट्रीय डॉक्टर्स दिवस के अवसर पर पंजाब मेडिकल कौंसिल के प्रेसिडेंट पर अपने पद का दुरूपयोग करने का लगाया आरोप

0
597

अंतर्राष्ट्रीय डॉक्टर्स दिवस के अवसर पर पंजाब के निजी एवं सरकारी संस्थानों के डॉक्टर्स ने पंजाब मेडिकल कौंसिल के प्रेसिडेंट डॉ जी एस ग्रेवाल पर प्रदेश में डॉक्टर्स का शोषण करने एवं अपने पद का दुरूपयोग करने का आरोप लगाया है | इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के बैनर तले चंडीगढ़ में की एक पत्रकार वार्ता के दौरान इन डॉक्टर्स ने आरोप लगाये कि ग्रेवाल प्रदेश के प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में प्रेक्टिस कर रहे डॉक्टर्स से उनकी डिग्री एवं रजिस्ट्रेशन को बरकार रखने के लिए लाखो रूपये की रिश्वत मांगते है डॉक्टर्स के द्वारा मना करने पर उनकी डिग्री एवं रजिस्ट्रेशन कैंसिल किये जाने की बात कही जाती है | वही इन डॉक्टर्स का यह भी आरोप है कि डॉ ग्रेवाल को उनके भाई महेशइंदर सिंह ग्रेवाल का भी समर्थन मिला हुआ है जिसके चलते वह बेखोफ होकर अपना गोरख धंधा चला रहे है | इन्ही आरोपों के साथ ही इन डॉक्टर्स ने डॉ ग्रेवाल को उनके पद से हटाने एवं इस मामले की निष्पक्ष जांच किये जाने की भी मांग की है |

इस बाबत यह डॉक्टर्स देश के प्रधानमन्त्री, गृह मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री पंजाब, इंडियन मेडिकल कौंसिल को भी शिकायत कर चुके है | पुरे मामले के बारे में जानकारी देते हुए सीनियर डॉ ओ पी अरोड़ा ने बताया कि उन्हें भी पिछले काफी समय से डॉ ग्रेवाल प्रताड़ित कर रहे है | उनसे डॉ ग्रेवाल ने पिछले तीन साल का डॉक्टरी रिकॉर्ड तलब किया था | जिसे 6 ट्रको में भर कर वह पी एम् सी के दफ्तर पहुंचे लेकिन वहां जाकर उन्हें पता चला की पी एम् सी में उनसे किसी तरह का रिकॉर्ड तलब ही नहीं किया गया था | जब इस बाबत डॉ अरोड़ा ने डॉ ग्रेवाल से बात की तो डॉ ग्रेवाल ने उनसे डिग्री एवं रजिस्ट्रेशन बरकार रखने के अवज में रिश्वत की मांग की |
बाईट …. सीनियर डॉ ओ पी अरोड़ा

वही डॉ ग्रेवाल से जब इन आरोपों के बारे में फ़ोन के माध्यम से जानकारी लेनी चाही तो उनके द्वारा सभी आरोपों को निराधार बताया गया |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here